सालों पुरानी है यह सेक्स तकनीक, मिलता है सुपर ऑर्गेजम और प्लेजर


1/6

सुपर ऑर्गेजम के लिए बेस्ट सेक्स तकनीक

सुपर ऑर्गेजम के लिए बेस्ट सेक्स तकनीक

कई सालों पहले यौन संबंधों की ऐसी तकनीकें आजमाई जाती थीं, जिनके आगे आज की यानी मॉडर्न सेक्स तकनीकें भी लगभग फ्लॉप ही हैं। खास बात तो यह है कि उन पुरानी तकनीकों में सुपर ऑर्गेजम मिलता था। ऐसी ही एक तकनीक है वीनस बटरफ्लाई। (सभी तस्वीरें: सांकेतिक)

2/6

इन 2 तरीकों से किया जाता है उत्तेजित

इन 2 तरीकों से किया जाता है उत्तेजित

यह एक ऐसी तकनीक होती है जिसमें प्राइवेट पार्ट्स को 2 तरीकों से उत्तेजित किया जाता है-एक ओरल और दूसरा मैनुअल (जिसमें उंगलियों का इस्तेमाल किया जाता है)

3/6

प्राइवेट पार्ट्स का टच

प्राइवेट पार्ट्स का टच

इसमें एक पार्टनर सिटिंग पोजिशन में होता है, जबकि दूसरा पार्टनर ठीक उसके पास इस तरह से लेटता है कि दिनों के प्राइवेट पार्ट्स एक-दूसरे के संपर्क में आते हैं। चूंकि इस दौरान टच एक बटरफ्लाई के पंखों के जैसा फील होता है, इसलिए इसे वीनस बटरफ्लाई कहा जाता है।

4/6

लंबे समय तक उत्तेजना

लंबे समय तक उत्तेजना

इस प्रकिया की सबसे खास बात यह होती है कि इसमें पार्टनर को लंबे समय तक उत्तेजित किया जा सकता है।

5/6

वीनस बटरफ्लाई तकनीक का सही तरीका

वीनस बटरफ्लाई तकनीक का सही तरीका

एक प्रफेशनल सेक्स एक्सपर्ट के अनुसार, वीनस बटरफ्लाई पोजिशन में अंदरूनी उत्तेजना के लिए मिडल और रिंग फिंगर का इस्तेमाल करना चाहिए और इंटरनल फिंगर्स को एक हुक की पोजिशन में रखना चाहिए।

6/6

तांत्रिक सेक्स का हिस्सा!

तांत्रिक सेक्स का हिस्सा!

वीनस बटरफ्लाई को प्राचीन तांत्रिक सेक्स तकनीक का हिस्सा माना जाता है, जिसमें मेल पार्टनर फीमेल पार्टनर को ओरल सेक्स के अलावा मैनुअल तरीकों से प्लेजर फील कराता है। हालांकि कुछ एक्सपर्ट इसे तांत्रिक सेक्स का हिस्सा नहीं मानते।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »