दे दे प्यार दे फिल्म रिव्यू: अजय देवगन – रकुल की हॉट केमिस्ट्री, तबू का शानदार अभिनय, पूरा पैसा वसूल


bredcrumb

Reviews

oi-Trisha Gaur

|

De De Pyaar De Movie Review: Ajay Devgn | Tabu | Rakul Preet Singh | FilmiBeat

जब आशीष (अजय देवगन) अपने दोस्त जावेद जाफरी को बताता है कि वो एक लड़की के प्यार में पड़ चुका है जो उसकी उम्र की आधी उम्र की है तो जावेद जाफरी उसे डांटता है और कहता है कि इसे उम्र का फासला नहीं कहते हैं, एक पूरी पीढ़ी का फासला कहते हैं। आकिव अली की डेब्यू फिल्म इसी दिक्कतों के बारे में बात करती है जो नॉर्मल से हटके इन रिलेशनशिप में हो जाती है।

फिल्म की कहानी UK में बसी है जहां आशीष (अजय देवगन) और आएशा (रकुल प्रीत सिंह) बेहद अजीब सी परिस्थिति में मिलते हैं जहां आएशा, आशीष के दोस्त की एक बैचलर पार्टी में नकली स्ट्रिपर बनकर पहुंच जाती है। दोनों मिलते हैं और दिल धड़कते हैं, भले ही उम्र में काफी फासले होते हैं। कुछ फ्लर्ट और रोमांटिक डेट्स के बाद दोनों अपने रिश्ते को गंभीरता से लेने लगते हैं।

लेकिन वो प्रेम कहानी ही क्या जिसमें कोई दिक्कत नहीं हो। शादी से पहले, आशीष आएशा को अपनी पुरानी बीवी मंजू से मिल लेने की सलाह देता है क्योंकि आशीष के दो बच्चे मंजू के साथ रहते हैं। जैसे वो दोनों मनाली पहुंचते हैं सारी दिक्कतें शुरू होती हैं और ये दिक्कतें ही दर्शकों को हंसाने का काम करेंगी। 

सबसे पहले तो आशीष, आएशा को अपनी सेक्रेटरी के तौर पर मिलवाता है। इसके बाद की पूरी कहानी आशीष और आएशा के इस कन्फ्यूजन और मंजू (तबू) के इस प्रेम कहानी को प्रेम त्रिकोण बनाकर मज़े लेने की है। आकिव अली ने भावनाओं को कॉमेडी में अच्छी तरह से पिरोया है। फिल्म की सबसे अच्छी बात है इसके किरदार। इन किरदारों को निभाने में अजय देवगन, तबू और रकुल प्रीत सिंह सफल हुए हैं। 

फिल्म का कोई भी किरदार अच्छा या बुरा नहीं है। सबमें अच्छाई भी है और बुराई भी है और इसलिए ये किरदार काफी सच्चे लगते हैं। हालांकि इन अच्छाईयों के बावजूद, दे दे प्यार दे कई जगह खिंचती चली जाती है। एक दो सीन फिज़ूल में इतना ड्रामा ले आते हैं कि एक कॉमेडी फिल्म में इसे हज़म करना मुश्किल हो जाता है।

लगातार, एक्शन और कॉमेडी के बाद, अजय देवगन इस रॉम कॉम में बेहद ताज़ा नज़र आए हैं और उन्हें फिल्म में देखना एक अच्छा अनुभव है। वहीं दूसरी तरफ अजय देवगन का अपनी माचो इमेज तोड़ना और दूसरों को पूरी जगह देना कि उनकी उम्र का मज़ाक उड़ा सके, काफी मज़ेदार है।

रकुल प्रीत सिंह फिल्म में बेहद हॉट नज़र आई हैं और अजय देवगन के साथ पूरे कॉन्फिडेंस के साथ खड़ी दिखाई दी हैं। उनकी और अजय देवगन की केमिस्ट्री को पूरे नंबर मिलने चाहिए। तबू एक बार फिर साबित करती हैं कि वो भारतीय सिनेमा का बेस्ट टैलेंट क्यों हैं। उनका इमोशनल सीन आपको कॉमेडी फिल्म में भी रूला देगा।

फिल्म में अजय देवगन की बेटी का किरदार निभाने वाली एक्टर आपको बहुत इरिटेट करेगी और उसकी एक्टिंग देखकर आपको खिसियाहट होगी जो कि फिल्म को भी ढीला करेगी। जिम्मी शेरगिल जब भी परदे पर आएंगे आपको ठहाके मारने पर मजबूर करेंगे। आलोक नाथ के ज़्यादातर सीन फिल्म से काट दिए गए हैं शायद।

आकिव अली खुद एक एडिटर हैं लेकिन फिर भी फिल्म इस डिपार्टमेंट में ढीली पड़ जाती है। म्यूज़िक की बात करें तो एक दो गाने छोड़कर और कोई गाना याद रखने लायक नहीं है। इतने ऊंचे नीचे सफर के बावजूद फिल्म आपको हंसाएगी और आपका मनोरंजन भी करेगी। हमारी तरफ से फिल्म को 3 स्टार।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »